मुख मैथुन क्या यह सुरक्षित है?

Is Oral sex Safe?

मुख मैथुन में भी सामान्य संभोग वाली बात ही लागू होती है। अगर लड़की के योनि में किसी प्रकार का संक्रमण नहीं है तो इस में किसी प्रकार की समस्या नहीं है और मुख मैथुन से सेक्स संक्रमित रोग का खतरा नहीं है। लेकिन अगर लड़की के योनि में किसी प्रकार का संक्रमण है तो मुख मैथुन से सेक्स संक्रमित रोग का खतरा है। इस से हर्पीस, सिफलिस, गोनेरिआ, HPV और यहाँ तक की HIV जैसे संक्रमण हो सकता है। अत: मुख मैथुन तभी करें जब लड़की के योनि में किसी प्रकार का संक्रमण नहीं हो। उस वक्त आप योनि में अंदर जीभ डाल कर भी योनि को चुस सकते हैं। अगर लड़की किसी लड़के के साथ मुख मैथुन कर रही है तो उसे भी इस बात का ध्यान रखना चाहिये कि लड़का को HIV न हो तथा लड़के के लिंग में किसी प्रकार का संक्रमण न हो क्योंकि लड़की जब लिंग को चुसती है तो संक्रमित शुक्राणु से HIV जैसे संक्रमण हो सकते हैं। यदि आप और आपका साथी साफ़ सफाई का ध्यान ठीक तरह से रखते हैं तो मुख मैथुन के अनहाईजीनिक (गन्दा) होने की कोई वजह नहीं है। लिंग या योनि के पसीने और चिपचिपाहट को ख़तम करने के लिए नहा कर मुख मैथुन करना चहिये।

क्या मुख मैथुन से गर्भ ठहर सकता है और क्या वीर्य पीना असुरक्षित है?

मुख मैथुन से गर्भ नहीं ठहर सकता है। महिला के गर्भवती होने के लिए पुरुष के शुक्राणु का महिला के गर्भाशय के सम्पर्क में आना आवश्यक है। इसलिये भले ही आप वीर्य पी लें आप गर्भवती नहीं होंगी। वीर्य पीना असुरक्षित नहीं है। वीर्य को निगलने का कोई नुक्सान नहीं है यदि उस व्यक्ति को कोई संक्रमण न हो। वीर्य में अक्सर शुगर और प्रोटीन होता है जिसका अपना कोई हानिकारक प्रभाव नहीं है। लेकिन आपके लिए वीर्य को निगलना बिलकुल ज़रूरी नहीं है। यदि आपको ये पसंद नहीं, तो आप अपने साथी को बता सकती हैं।

मुख मैथुन से स्त्री को चरम सुख पाने में आसानी होते है।

मुख मैथुन से स्त्री को चरम सुख पाने में आसानी होते है। स्त्री को चरम सुख पाने का केवल योनि या गुदा मैथुन ही जरिया नहीं हैं। यह योनि को उपर से या योनि में अंदर जीभ डाल कर योनि को चुसने से भी संभव है। कई सर्वे और रिसर्च में यह साबित हो चुका है कि महिलाओं को योनि मैथुन की अपेक्षा मुख मैथुन से आसानी से चरम सुख (ओर्गास्म) प्राप्त हो जाता है।

 

top women in the world