महिलाओं के लिए गर्भ निरोधक विकल्प :

महिला कंडोम स्परमिसिडिस संयुक्त मौखिक गर्भनिरोधक
मौखिक गर्भनिरोधक प्रोजेस्टिन (मिनी पिल) आपातकालीन गर्भनिरोधक प्रौजैस्टिन ओनली इनजैक्टेबलस
इन्ट्रा युटरीन डिवाइज सेंट्चरोमन महिला बन्ध्यीकरण - ट्यूब बंधी

मौखिक गर्भनिरोधक प्रोजेस्टिन मात्र (मिनी पिल)

प्रोजेस्टन मात्र क्या होते हैं?

प्रोजेस्टोजन ओनली या प्रोजेस्टिन ओनली पिल्स (पी ओ पी) ऐसा गर्भ निरोधक है जिसमें केवल सिन्थेटिक है और ओइसट्रोजन नहीं है। इन्हें मिनी पिल्स भी कहते हैं।

 

 
 
 

पी ओ पी कैसे काम करता है?

इस गर्भ निरोधक में तीन चीजें होती हैं।

(1) पहले सामान्य गर्भनिरोधक की तरह, पीओपी आपके शरीर को यह एहसास देता है कि आप गर्भवती हैं और आप के अण्डकोश को अण्ड विसर्जन से रोकता है।

(2) दूसरे, ये मिनी पिल्स आपकी कोख (जहां बच्चा पनपता है) में बदलाव ले आता है। (कि यदि अण्ड विसर्जन हो भी जाए तो आपका गर्भाशय उसे गर्भ धारण नहीं करने देता)


(3) तीसरे, पी ओ पी से अण्डकोश और योनि के बीच का म्युकस गाढा हो जाता है (गर्भाशय के बाहर आने के लिए योनि एक द्वार है) गाढे म्युकस से अण्डे तक पहुंचने के लिए वीर्य को काफी कठिनाई झेलनी पड़ सकती है।

प्रोजेस्टीन ओनली पिल किन महिलाओं के लिए उचित है?

प्रोजेस्टीन ओनली पिल सामान्य जन्म निरोधक गोलियों से बेहतर होती है

(1) क्योंकि यदि आप स्तनपान करवा रही हैं तो यह आपके दूध बनने की प्रक्रिया को बदलता नहीं

(2) यदि आप 35 वर्ष से अधिक आयु के हैं

(3) जो महिलाएं धूम्रपान करती हैं।

(4) जिन्हें उच्च रक्तचाप रहता है

(5) वजन बहुत अधिक हो

(6) रक्त के थक्के बनते हों तो यह लाभदायक रहताहै।

प्रोजेस्टीन ओनली पिल किन महिलाओं को नहीं लेना चाहिए?

(1) यदि आप किसी असामान्य गर्भधारण से गुजर चुकी हैं जिसमें भ्रूण गर्भाशय से बाहर था।

(2) यदि आपको रक्तवाहिकाओं का कोई तीव्र रोग हो या असामान्य रूप से ऊंचाक्लोस्ट्रोल हो या अन्य रक्त परक फैट की समस्या हो

(3) यदि आपको स्तन का कैंसर हो

(4) यदि आपको योनि से रक्तस्राव हो रहा हो जिसका कारण पता न चल रहा हो तो डाक्टर अपने आप प्रोजेस्टीन ओनली पिल आप को देने से मना कर देगा।

प्रोजेस्टीन ओनली पिल लेने के बाद भी, क्या गर्भधारण हो सकता है?

प्रोजेस्टीन ओनली पिल को सही ढंग से लगातार लेने वाली 100 महिलाओं में से दो या तीन गर्भ धारण कर जाती हैं।

क्या प्रोजेस्टीन ओनली पिल से कुछ हानियां भी हो सकती हैं?

प्रोजेस्टीन ओनली पिल के निम्नलिखित सह प्रभाव हो सकते हैं

(1) पीरियड्स के बीच धब्बे लगना या रक्त स्राव इसमें असुविधा तो होती है पर स्वास्थ्यपरक कोई खतरा नहीं होता। यदि लगे कि रक्त स्राव पहले से भारी है या उससे परेशान हों

(2) वजन बढ़ जाए

(3) स्तनों में ढीलापन लगे तो डाक्टर से परामर्श कर सकते हैं।

मिनी पिल को कैसे खाना चाहिए?

प्रत्येक पैकेट में 28 पिल्स होते हैं। प्रत्येक पिल में हॉरमोन होते हैं। रक्त स्राव के पांचवे दिने से इन्हें लेना शुरू करते हैं हालांकि, अगर आप पक्की तरह जानती हैं कि आपने गर्भधारण नहीं किया तो पीरियड चक्र में किसी भी समय शुरू किया जा सकता है।

पिल शुरू करने के एकदम बाद क्या सहप्रभाव पड़ सकते हैं?

जब आप पीओपी को पहले पहले शुरू करते हैं और जैसे ही शरीर को इसकी आदात पड़ती है आपके शरीर पर इसका कुछ प्रभाव दिखाई दे सकता है जैसे कि पीरियडस के बीच में ही रक्त स्राव होने लगना और सिर दर्द रहना। उनसे कोई खतरा नहीं होता और सामान्तः पहले दो महीने में ठीक भी हो जाती है। अगर ऐसे लक्षण दिखें जो कि बहुत देर तक चलने वाले हों या बहुत तीव्र हों तो डाक्टर से परामर्श करें।

यदि पिल लेना भूल जायें तो देर से लें तो क्या होता है?

1.  यदि आप एक पीओपी लेना भूल गए हैं या तीन या उसके अधिक घन्टे की देर हो जाए तो याद आने के साथ ही उसे खा लें। उसके बाद नियमित समय पर पीओपी लेते रहें। ध्यान रखें कि अगले 48 घन्टे में अगर आप करें तो कंडोम जैसे अन्य सहायक साधन का इस्तेमाल जरूर करें।

2.  यदि लगातार दो या अधिक पीओपी लेना भूल जायें, तो उसी समय शुरू कर दें और दो दिन तक दो पिल लेते रहें। अन्य सहायक साधनों का इस्तेमाल एकदम शुरू कर दें। यदि 4 से 6 हफ्ते में पीरियड शुरू न हो तो डाक्टर से मिलें।

3.  यदि आपने असुरक्षित सम्भोग किया है, बिना सहायक साधन के सम्भोग और पीओपी लिये नहीं या देर से लिये हैं तो 4-6 हफ्ते तक पीरियड शुरू न होने पर डाक्टर सें आपातकालीन गर्भनिरोधक देने के लिए कहें, डाक्टर से मिलें।

गर्भ निरोधक

 

top women in the world